Home अभी अभी मुजफ्फरपुर गृह कांड को लेकर जंतर-मंतर पर धरना: एकसाथ नजर आएंगे तेजस्वी-राहुल-केजरीवाल
मुजफ्फरपुर गृह कांड को लेकर जंतर-मंतर पर धरना: एकसाथ नजर आएंगे तेजस्वी-राहुल-केजरीवाल

मुजफ्फरपुर गृह कांड को लेकर जंतर-मंतर पर धरना: एकसाथ नजर आएंगे तेजस्वी-राहुल-केजरीवाल

4
0

नई दिल्ली। बिहार के मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड पर शुरू हुई राजनीति अब दिल्ली पहुंच चुकी है। राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के नेता तेजस्वी यादव शनिवार को दिल्ली के जंतर-मंतर पर धरना देंगे। तेजस्वी के अनुसार कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने धरने शामिल होने के लिए हामी भर दी है।

बताया जा रहा है राहुल गांधी के अलावा दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल, सपा प्रमुख अखिलेश यादव, बंगाल की सीएम ममता बनर्जी सहित तमाम विपक्षी नेता धरने में शामिल हो सकते हैं। इसके अलावा सिविल सोसायटी के तमाम प्रतिनिधी भी धरने में शामिल हो सकते हैं।

तेजस्वी ने ट्वीट कर भी इस धरने की जानकारी दी है। अपने ट्वीट में तेजस्वी ने कहा- ‘मुजफ्फरपुर में प्रायोजित और नीतीश सरकार द्वारा संरक्षित जघन्य संस्थागत जन बलात्कार के खिलाफ हम शनिवार को जंतरमंतर पर धरना करेंगे।’ तेजस्वी ने कहा कि वह मंच से इन जघन्य अपराध पर जवाब मांगेंगे।

तेजस्वी के मुताबिक, मुजफ्परपुर कांड की वजह से पूरा देश शर्मसार हुआ है। तेजस्वी ने कहा कि दिल्ली में धरना आयोजित कर पीड़ित लड़कियों के लिए न्याय की मांग करेंगे, साथ ही देश की जनता से पीड़ितों के लिए न्याय के पक्ष में खड़ा होने की मांग करेंगे।

बता दें कि मुजफ्फरपुर बालिका गृह यौन शोषण कांड में 42 बच्चियों में से अब तक 34 बच्चियों के साथ बलात्कार की पुष्टि हुई है। बालिका गृह यौन शोषण मामले में आरोपी ब्रजेश ठाकुर की एक और संस्था स्वाधार में बुधवार को जांच के दौरान कई आपत्तिजनक सामान मिलने से सनसनी फैल गई।

आरोपी ब्रजेश के एनजीओ सेवा संकल्प एवं विकास समिति के तहत चलने वाली स्वाधार गृह से 11 महिलाओं के गायब होने के मामले के खिलाफ गत सोमवार को महिला थाना में मामला दर्ज हुआ था।

पुलिस और एफएसएल की टीम ने बुधवार को स्वाधार गृह का ताला तोड़कर अंदर से कई आपत्तिजनक सामान बरामद किया है। एफएसएल की टीम के द्वारा स्वाधार गृह से इस्तेमाल किए और पैक कॉन्डम भी बरामद किया गया है। वहीं इस स्वाधार गृह परिसर से शराब की खाली बोतल भी बरामद हुई है।

मार्च 2018 में जब समाज कल्याण विभाग ने स्वाधारा संस्था का निरीक्षण किया था तब यहां 11 महिलाएं थी, लेकिन संस्था के संचालक ब्रजेश ठाकुर के गिरफ्तार होने के बाद इस संस्था पर ताला लग गया. इसमें रहने वाली महिलाएं कहां गईं इसके बारे में किसी को कुछ पता नही है।

स्वाधारा भारत सरकार के अंतर्गत चलने वाली योजना है जिसमें बेसहारा महिलाओं को सेल्फ डिपेंडेंट बनने की ट्रेनिंग दी जाती है। समाज कल्याण विभाग के सहायक निर्देशक दिवेश कुमार शर्मा ने महिला थाना में मामला दर्ज कराया था।

समाज कल्याण विभाग द्वारा गत 20 मार्च को स्वाधार गृह का निरीक्षण किया गया था। इस दौरान वहां 11 महिलाएं और उनके साथ चार बच्चियां रहती थीं। वहीं जब 9 जून को जिला निरीक्षण कमिटी द्वारा पुनः स्वाधार गृह का निरीक्षण किया गया तो वहां ताला जड़ा मिला। वहां ना तो कोई कर्मी मिले और ना ही वहां रहने वाली महिलाएं और बच्चों का कुछ पता चला।

इस मामले में अब तक स्वाधार गृह के कर्मियों द्वारा कोई जानकारी विभाग को उपलब्ध नहीं कराई गई है, जिसको लेकर सहायक निदेशक दिवेश कुमार शर्मा ने महिला थाना में मामला दर्ज कराया था। बहरहाल स्वधार गृह के जांच में आपत्तिजनक सामान बरामद होते पुलिस के वरीय पदाधिकारी भी स्वाधार गृह पहुंच कर जांच कर रहे है।

(4)

Close