Home अभी अभी बालाकोट का सच बताने वाली इतालवी पत्रकार बनारस पुलिस से नाराज, गृह मंत्री को किए ट्वीट
बालाकोट का सच बताने वाली इतालवी पत्रकार बनारस पुलिस से नाराज, गृह मंत्री को किए ट्वीट

बालाकोट का सच बताने वाली इतालवी पत्रकार बनारस पुलिस से नाराज, गृह मंत्री को किए ट्वीट

115
0

आशुतोष त्रिपाठी

वाराणसी: इतालवी पत्रकार फ्रांसेस्का मारीनो वाराणसी पुलिस की कार्यशैली को लेकर बेहद नाराज हैं। मारीनो ने भेलूपुर पुलिस और वाराणसी एसएसपी की शिकायत करते हुए गृह मंत्री अमित शाह व वस्त्र मंत्री स्मृति ईरानी को कई ट्वीट किए।

ये इतालवी की वही पत्रकार हैं जो पाकिस्तान के बालाकोट में भारतीय वायुसेना की एयर स्ट्राइक में 170 आतंकवादियों के मारे जाने का दावा कर चर्चा में आई थी।


क्या है मारीनो की शिकायत

फ्रांसेस्का मरीनो ने बुधवार को ट्वीट कर कहा कि उन्होंने बनारस के एक परिवार के दो बच्चों राम और संध्या को गोद लिया था और उन्हें इटली लेकर आई। कुछ समय पहले राम ने अपनी मर्जी से बनारस में ही शादी की, लेकिन उसकी पत्नी ने इटली जाने से मना कर दिया। कुछ समय बाद में उसका परिवार दो लाख रुपए लेकर तलाक देने की बात कहने लगा, मगर बाद में उससे भी इनकार कर दिया

इतालवी की पत्रकार का कहना है कि राम को लगातार परेशान किया तो उसने भेलूपुर थाने में शिकायत की लेकिन पुलिस ने राम से दुर्व्यवहार किया और रिश्वत मांगी। उनका कहना है कि एसएसपी से शिकायत की गई तो उन्होंने भी राम की पत्नी और उसके मायके वालों का ही पक्ष लिया। पूरे मामले पर पत्रकार ने अब दो केंद्रीय मंत्रियों से मदद की मांग की है।

वहीं एसएसपी आनंद कुलकर्णी का कहना है कि उनकी जानकारी में ये मामला नहीं आया। पत्रकार का ट्वीट देख उनको कहा गया कि वह हमारे सीयूजी नंबर पर संपर्क करें या किसी को ऑफिस भेजें तो उचित कार्रवाई कराई जाएगी।

कौन हैं पत्रकार फ्रांसेस्का मरीनो

इतालवी पत्रकार फ्रांसेस्का मरीनो वर्ष 2010 में जमात-उद-दावा के चीफ आतंकी हाफिज सईद का इं‍टरव्‍यू लिया था। इसके बाद वह चर्चा में आईं। उन्‍होंने किताब (Apocalypse Pakistan – Anatomy of the most dangerous country in the world) लिखकर बताया कि पाकिस्‍तान खतरनाक आतंकियों को पनाह दे रहा है। इस किताब के बाद पाकिस्‍तान ने उन पर प्रतिबंध लगाकर उन्हें देश छोड़ कर जाने को कह दिया था।

(115)

Close